News Description
हरिद्वार में अपने ही वाहन से कुचल कर कांवड़िये की मौत

दोस्तों के साथ कैंटर से डाक कांवड़ लेने गए गांधीनगर बादशाहपुर निवासी संजय (32)की कैंटर के टायर के नीचे आने से मौत हो गई। हादसा हरिद्वार में मंगलवार सुबह करीब चार बजे हुआ।

संजय तीन साथियों के साथ कैंटर के नीचे दरी बिछाकर सोए हुए थे। चालक को यह बात पता नहीं थी। उसने वाहन को आगे बढ़ा दिया। टायर के नीचे सिर आने से युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। उसके साथ गए युवक एंबुलेंस से शव लेकर शाम को बादशाहपुर पहुंचे।

संजय की बादशाहपुर के मुख्य बाजार में फोटोग्राफी की दुकान है। वह गली के दुकानदारों व मोहल्ले के कई युवकों के साथ कई साल से कांवड़ लेने जा रहे थे। शनिवार रात वह 22 युवकों के साथ वह गाजे-बाजे के साथ कैंटर से हरिद्वार के लिए रवाना हुए थे। सोमवार शाम वहां पहुंचने के बाद सुबह गंगा स्नान कर कांवड़ लाने की तैयारी थी। रात में कुछ युवक कैंटर के ऊपर सो गए वहीं संजय दो लोगों के साथ कैंटर के नीचे दरी बिछाकर लेट गए थे। संजय का शव मंगलवार शाम को जब बादशाहपुर आया तो पूरा मोहल्ला शोक में डूब गया। पिछले साल भी यहां का एक युवक कांवड़ लेने गया था तो गंगा में नहाते वक्त डूबने से उसकी मौत हो गई थी।