News Description
कावड़ मेले में जानमाल की हानि को रोकने के लिए नियुक्त किए डयूटी मैजिस्ट्रेट

जिलाधीश चन्द्रशेखर खरे ने दण्ड प्रक्रिया नियमावली 1973 की धारा 22(1) व 23(2) के तहत 21 जुलाई तक चलने वाले कावड़ मेले के दृष्टिगत जिला में आमजन में शांति स्थापित करने और जानमाल की हानि को रोकने के लिए 10 डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं। इसके साथ-साथ जिलाधीश चन्द्रशेखर खरे ने दण्ड प्रक्रिया नियमावली 1973 की धारा 144 के तहत निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए आदेश जारी किए हैं। 
आदेशानुसार डिप्टी सीईओ जिला परिषद पानीपत जसविन्द्र बांगड और इंस्पैक्टर सुरेश को पुलिस स्टेशन सीटी पानीपत क्षेत्र में, तहसीलदार पानीपत जिवेन्द्र मलिक व इंस्पैक्टर धर्मबीर को पुलिस स्टेशन सदर, नायब तहसीलदार सुमनलता व इंस्पैक्टर अमीत कुमार को पुलिस स्टेशन मॉडल टॉउन पानीपत, बीडीपीओ मडलौडा अशौक छिक्कारा व इंस्पैक्टर संदीप को पुलिस स्टेशन चांदनी बाग पानीपत, तहसीलदार समालखा मनोज कुमार व इंस्पैक्टर जितेन्द्र सिंह समालखा को पुलिस स्टेशन समालखा क्षेत्र में डयूटी मैजिस्टे्रट लगाया गया है। इसी प्रकार तहसीलदार इसराना संजीव कुमार व इंस्पेक्टर नवीन कुमार इसराना को पुलिस स्टेशन इसराना, नायब तहसीलदार मडलौडा जयसिंह व इंस्पैक्टर नरेन्द्र कुमार मडलौडा को पुलिस स्टेशन मडलौडा, तहसीलदार बापौली नवनीत व इंस्पैक्टर अजय कुमार बापौली को पुलिस स्टेशन बापौली, नायब तहसीलदार समालखा अनिल कौशिक व इंस्पैक्टर नरेन्द्र सिंह सनौली को पुलिस स्टेशन सनौली तथा बीडीपीओ इसराना जितेन्द्र कुमार व इस्पैक्टर सुरेशपाल किला पानीपत को पुलिस स्टेशन ट्रैफिक बाबरपुर क्षेत्र में डयूटी मैजिस्ट्रेट लगाया गया है। एसडीएम पानीपत व समालखा अपने-अपने सम्बंधित क्षेत्रों के ऑवरआल इन्चार्ज होंगे। इन आदेशों की अवहेलना करने वाले व्यक्ति पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी।