News Description
उमस भरी गर्मी में घंटों गायब रहती बिजली, हाल-बेहाल

बिजली निगम के तमाम दावों के बावजूद शहर को बिजली कटौती से राहत नहीं मिल रही है। पिछले पांच दिनों से उमस भरी गर्मी का असर तेज होने के साथ निगम की तरफ से अघोषित कटौती का सिलसिला तेज कर दिया गया है। हालात यह है कि शहर में दिन के साथ रात के समय भी धड़ाधड़ अघोषित कट लगाए जा रहे हैं जिसकी वजह से लोगों की रातों की नींद उड़ी हुई है।

जिला में इस बार मानसून ने समय पर तो दस्तक दे दी लेकिन बारिश के महज तीन दिन ही रहे हैं जिसकी वजह से बारिश का दौर कई-कई दिनों तक थमा रहता है। अभी भी कई दिनों से यही स्थिति बनी हुई है। बारिश के थमे दौर के साथ न्यूनतम एवं अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी से बिजली की मांग भी काफी बढ़ गई है जिसको देखते हुए निगम अधिकारियों ने पिछले दिनों 220 केवी सब स्टेशन के साथ मॉडल टाउन के 33 केवी सब स्टेशन के ट्रांसफार्मरों की सिटी (लोड क्षमता) बदली थी। इसके बाद निगम अधिकारियों ने कहा कि ट्रांसफार्मरों की लोड क्षमता बढ़ाने के बाद बार-बार की कटौती से निजात मिल जाएगी लेकिन अब फिर वहीं हालात हो गए हैं।

शहर में दिन के समय कटौती के साथ रात के समय भी काफी अधिक कटौती की जा रही है। रात को होने वाली कटौती की वजह से उमस के कारण लोगों की नींद में भी खलल पड़ रहा है। हालात यह है कि हर एक-दो घंटे बाद कटौती की जा रही है।