News Description
बिना किताबों के बच्चों को कैसे मिलेगा अक्षर ज्ञान

बहादुरगढ़ खंड के प्राइमरी स्कूलों में पाठ्य पुस्तकें पहुंचने से पहले मासिक मूल्याकन परीक्षाओं का शेड्यूल पहुंच गया। बिना पाठ्य पुस्तकों के बच्चे किस तरह शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे यह सोचने का विषय है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार जल्द ही स्कूलों में पुस्तकें पहुंचनी शुरू हो जाएंगी। मासिक मूल्याकन परीक्षा 24 जुलाई से शुरू हो रही है। वहीं सरकार सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को उठाने के लिए निजी स्कूलों को टक्कर देने की बात कह रही है लेकिन आज तक स्कूलों में तीसरी से लेकर पाचवीं कक्षा तक की एक भी पाठ्य पुस्तक नहीं पहुंची है। ऐसे में बिना किताबों