News Description
पानी की बर्बादी रोकने के लिए गांव कन्हड़ी के ग्रामीणों ने लिया संकल्प

गांवकन्हड़ी के ग्रामीणों ने जल बचाओ मुहीम का समर्थन करते गांव में जल की बर्बादी रोकने का बीड़ा उठाया है। ग्रामीणों ने एक सुर में कहा कि गांव में जल की बर्बादी किसी भी सूरत में नहीं होने दी जाएगी। ग्रामीणों ने मांग की कि टोहाना को डार्क-जोन से बाहर किया जाए। । मुहीम के कॉर्डिनेटर बलजीत जांगड़ा ने बताया कि पानी का बड़ा संकट खड़ा होता दिखाई दे रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक भाखड़ा डैम पर पानी का जलस्तर काफी घट गया है। जिस कारण सभी को मिलकर पानी की बर्बादी को रोकना होगा तथा जरूरत अनुसार पानी का प्रयोग करने की आदत डालनी होगी। ग्रामीणों ने सामूहिक रूप से यह फैसला किया कि जिन घरों में पानी की बर्बादी की जाती है उनको जागरूक किया जाएगा। पैक्स कर्मचारी यूनियन के जिला प्रधान अमृतपाल ने कहा कि वह गांव में घर- घर जाकर लोगों से अपील करेंगे कि जरूरत अनुसार ही पानी खर्च करें। बैठक में पूर्व सरपंच महाबीर सिंह, सज्जन सिंह, जीवणा राम, अमृत पाल, ओमप्रकाश नैन, राममेहर सिंह, सतबीर सिंह, दिलबाग सिंह, जयपाल, ईश्वर सिंह, पैक्स कर्मचारी सहित शहीद आजम सेवा समिति प्रधान सुशील गिल, दलशेर इंसा, स्पेस अस्पताल प्रबंधक सुभाष मोर शामिल हुए |