News Description
मरीजों का हाल जानने ट्रॉमा सेंटर से शताब्दी फेस टू पैदल ही पहुंचे CM योगी, मरने वालों की संख्या 8 हुई

लखनऊ के केजीएमयू के ट्रॉमा सेन्टर में शानिवार रात आग लगने से मरने वालों की संख्या 8 हो गई है। इसमें पहले मरने वालों की संख्या 6 बताई जा रही थी।  इसमें पहला रायबरेली का है संजीव त्रिपाठी, जिसकी मौत ऑक्सीजन हटा लेने के कारण हुई। दूसरा मरीज राजस्थान का है इसकी मौत भी बिना इलाज के कारण हुई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक CM योगी ट्रामा सेंटर से शताब्दी फेस टू पैदल ही पहुंचे। उन्होंने किसी भी तरीके की गाड़ी का इस्तेमाल नहीं किया। योगी ने अस्पताल में मरीजों का हाल का जायजा लिया। इसी दौरान एक मरीज की मौत को लेकर CM के सामने तीमारदार इलाज के दौरान और जबरन ऑक्सीजन हटाए जाने का आरोप लगाया गया है।

हादसे के बाद स्थिति थोड़ी सामान्य हुई है और अस्पताल का एक यूनिट चालू कर दिया गया है। इसी बीच सीएम योगी यहां हालात का जायजा लेने अस्पताल पहुंचे हैं। वहीं दूसरी ओर यहां पहुंचे कुलपति डॉक्टर एमएलबी भट्ट ने कहा कि अभी हालत सुधरने में 5 से 6 दिन लगेंगे। हालांकि हॉस्पिटल की ग्राउंड फ्लोर की एक यूनिट चालू कर दी गई है। जिसमें 3 मरीजों को भर्ती किया गया है। एमएलबी भट्ट के साथ चिकित्सा शिक्षा मंत्री गोपाल जी टंडन और डीजीपी सुलखान सिंह भी ट्रामा सेंटर पहुंचे।