News Description
8 जापानी मशीनों से होगा डायलिसिस बीपीएल का अब फ्री में होगा इलाज

 अम्बाला के लोगों को डायलिसिस के लिए महंगे अस्पतालों या दूसरे जिलों में जाने की जरूरत नहीं होगी। शनिवार को कैंट सिविल अस्पताल में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने डायलिसिस सेंटर का शुभारंभ किया। पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत डीसी डीसी किडनी केयर की ओर से इस सेंटर को तैयार किया गया है जिसमें इनकी टीम अपनी सेवाएं रियायती दरों पर देगी। कंपनी का सरकार से 14 सालों का करार हुआ है। इसके बाद प्रदेश के अन्य 9 जिलों में भी जल्दी ही डायलिसिस सेंटर इसी तर्ज पर शुरू किए जाएंगे।

अम्बाला के बाद अन्य जिलों में भी होगी शुरुआत: डीसी डीसी किडनी केयर के डायरेक्टर अक्षांत गर्ग ने बताया कि विभाग के साथ करार के मुताबिक गुड़गांव, फरीदाबाद, सिरसा और जींद में डायलिसिस सेंटर चलाए जा रहे हैं। पंचकूला में पहले से ही पीपी मोड पर सेंटर चल रहा है।
 
20 लोगों का स्टाफ रहेगा तैनात
डीसी डीसी के एवीपी क्लीनिकल आप्रेशन मोहम्मद नुरूद्दीन अहमद ने बताया कि अम्बाला में लगाई गई डायलिसिस की मशीनें जापान से मंगाई गई हैं जो बेहद उम्दा तकनीक की हैं। यहां पर लगी कुल आठ मशीनों में से एक हैपेटाइटिस-ए, एक हैपेटाइटिस-बी और छह मशीनें रूटीन डायलिसिस की लगाई गई हैं। अस्पताल में तीन डाॅक्टर, एक काउंसलर और 20 लोगों का स्टाफ डायलिसिस के काम में तैनात रहेगा। फिलहाल यह सेंटर सुबह 7 से शाम 4 बजे तक सेवाओं में रहेगा। एक डायलिसिस में लगभग चार घंटों का वक्त लगता है।