News Description
बैंक की तिजोरी नहीं खुली तो डीवीआर, मोबाइल ले गए चोर

ऐसा लगता है कि चोरों ने गोरीवाला पुलिस को चैलेंज दे रखा है। पहले एरिया में स्थित सरकारी शैक्षणिक संस्थानों तथा आंगनवाड़ी केंद्रों में दर्जन भर वारदात अंजाम दी तो बुधवार रात को चोरों ने पुलिस चौकी से कुछ ही दूरी पर गांव के बीचों-बीच स्थित द सिरसा केंद्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड सिरसा के ताले तोड़ डाले। बैंक की तिजोरी तोड़ने की कोशिश की। लेकिन हेंडल टूटने के बाद चोर डीवीआर तथा शाखा प्रबंधक का मोबाइल चुरा ले गए। गोरीवाला पुलिस ने शाखा प्रबंधक रामकुमार जाखड़ की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरु कर दी है।रोजाना की तरह बृहस्पतिवार सुबह करीब 5.30 बजे सेल्जमैन मदन सेठी टंकी में पानी भरने के लिए बैंक में आया था। बैंक के मुख्य गेट का लॉक टूटा देख उसने तत्काल शाखा प्रबंधक तथा कैशियर नरेंद्र पाल को सूचित किया। सूचना पाकर पुलिस मौका पर पहुंची। बैंक के भीतर सामान बिखरा हुआ था। सीसीटीवी कैमरे टूटे हुए थे। लेकिन डीवीआर गायब था। तिजोरी का हेंडल टूटा था। तिजोरी को खोला गया तो उसमें रखे 5.23 लाख रुपये सुरक्षित मिले। शाखा प्रबंधक ने बताया कि दुग्ध उत्पादकों तथा सरकारी स्कूलों के बच्चों को सुविधाओं की राशि देने के लिए सोमवार को 10 लाख रुपये आए थे। जिसमें से 4.77 लाख रुपये का वितरण कर दिया गया था। शेष राशि तिजोरी में रखी हुई थी। सोसायटी का चार्ज उनके पास होने के कारण सरकारी मोबाइल भी उन्हीं के पास था। जो काऊंटर की दराज में पड़ा था। चोर निकाल ले गए। रिकॉर्ड के साथ-साथ अन्य सामान सुरक्षित है।