# कारगिल विजय दिवस पर मोदी और जेटली ने दी श्रद्धांजलि         # मनाली में रोहतांग सुरंग के निकट फटा बादल, सड़क बही         # ब्रिटेन मे भारतीय मूल की मुस्लिम युवती की हत्या          # सहारा ग्रुपः सुप्रीम कोर्ट ने 1500 करोड़ रुपये जमा कराने का दिया आदेश         # सरकार ने खत्म किया भारत में ड्राइवरलैस कार का सपना         # भारत ने रिहा किए दस पाकिस्तानी कैदी         # पीएम ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे, 500 करोड़ राहत पैकेज का एेलान         # 9982 पर निफ्टी, सेंसेक्स में दिखी 45 अंकों की तेजी         # चीन के पीछे हटने पर ही डोकलाम से हटेगी भारत की सेना         # राष्ट्रपति ने नेहरू का जिक्र न किया तो भड़क गई कांग्रेस         दिल्ली कोर्ट ने शब्बीर शाह को 7 दिन की ED रिमांड पर भेजा          # श्रीलंका के खिलाफ दोहरे शतक से चूके शिखर         सोनीपत विधानसभा क्षेत्र के लोग अपने विधायक से सबसे ज्यादा खुश-सर्वे रिपोर्ट        
News Description
डबल मर्डर कर घर में कैद हो गया था बिजनेसमैन, निकलते ही हुआ कत्ल

बुधवार को डबल मर्डर के आरोपी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस वारदात में उसका चचेरा भाई भी गोली लगने से घायल हो गया। दिनदहाड़े मारे गए सजायाफ्ता राकेश को जान का खतरा था। इसलिए उसने घर के अंदर-बाहर सीसीटीवी कैमरे लगा रखे थे। घर से बाहर भी महीने में दो-तीन बार ही जाता था। उसे पहले से ही खतरे का आभास था इसलिए 10 दिन पहले ही गांव से चचेरे भाई जसबीर को बुलाया था।बदमाशों का टारगेट पूरी तरह से राकेश ही था। इसलिए गोलियां मारने के बाद जब गाड़ी के शीशे टूटे तो बदमाशों ने गाड़ी के पास जाकर देखा और फिर राकेश को गोली मारी। जब राकेश स्टेयरिंग पर गिर गया तो एक गोली कमर में भी मारी।शहर के बहुचर्चित बाली पहलवान हत्याकांड का मुख्य आरोपी अमन नंदी था। अमन नंदी ने बाली पहलवान को तहसील कैंप में गोली मारी थी। उसके बाद अमन नंदी को राकेश श्योकंद ने तहसील कैंप जिम में गोली मार दी थी।अमन की हत्या में लोअर कोर्ट ने राकेश को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इसी केस में 5 साल जेल में रहा। 2013 में हाईकोर्ट से पैरोल पर बाहर आया था।