# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
शिवभक्तों को इस बार उत्तराखंड बार्डर पर ही छोड़ने होंगे लाठी-डंडे

इसबार शिवरात्रि के मौके पर हरियाणा से जाने वाले हजारों कांवड़ लाने वालों को अपने लाठी डंडे उत्तराखंड की सीमा के बाहर ही रखने पड़ेंगे। क्योंकि इस बार की सावन कांवड़ यात्रा के दौरान शिव भक्त उत्तराखंड में अस्त्र-शस्त्र, हॉकी, डंडे, लाठी बेसबाल बैट को हरिद्वार में ले जाने पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए कांवड़ के मुख्य मार्गों पर पोस्टर लगाने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। 

हर वर्ष सावन के महीने में शिवरात्रि धूमधाम से मनाई जाती है। अबकी बार श्रावण कांवड़ मेला 10 जुलाई से शुरू होने जा रहा है। इन आदेशों के पुलिस ने पोस्टर बनवाकर सार्वजनिक स्थानों पर लगा दिया है। 

टिकरी बार्डर पर भी लगाए पोस्टर 

दिल्लीके टिकरी बार्डर के साथ साथ घेवरा मोड पर भी इस तरह के पोस्टर लगा दिए हैं। पुलिस के अनुसार आदेशों का पालन करने वालों पर जुर्माने के साथ कार्रवाई भी होगी। उत्तराखंड पुलिस के जवान आदेशों को लेकर दिल्ली बार्डर पर पहुंचकर दिल्ली पुलिस को भी इन आदेशों की जानकारी दी।