# कारगिल विजय दिवस पर मोदी और जेटली ने दी श्रद्धांजलि         # मनाली में रोहतांग सुरंग के निकट फटा बादल, सड़क बही         # ब्रिटेन मे भारतीय मूल की मुस्लिम युवती की हत्या          # सहारा ग्रुपः सुप्रीम कोर्ट ने 1500 करोड़ रुपये जमा कराने का दिया आदेश         # सरकार ने खत्म किया भारत में ड्राइवरलैस कार का सपना         # भारत ने रिहा किए दस पाकिस्तानी कैदी         # पीएम ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे, 500 करोड़ राहत पैकेज का एेलान         # 9982 पर निफ्टी, सेंसेक्स में दिखी 45 अंकों की तेजी         # चीन के पीछे हटने पर ही डोकलाम से हटेगी भारत की सेना         # राष्ट्रपति ने नेहरू का जिक्र न किया तो भड़क गई कांग्रेस         दिल्ली कोर्ट ने शब्बीर शाह को 7 दिन की ED रिमांड पर भेजा          # श्रीलंका के खिलाफ दोहरे शतक से चूके शिखर         सोनीपत विधानसभा क्षेत्र के लोग अपने विधायक से सबसे ज्यादा खुश-सर्वे रिपोर्ट        
News Description
पैसे चार गुना होने के लालच में लाखों रुपए का चूना, कंपनी के एमडी का पता नहीं

पानीपत।तीन साल में पैसे 4 गुना होने और नया ग्राहक लाने पर दस प्रतिशत कमीशन के चक्कर में लोग मोटी रकम कंपनी में लगा बैठे। अब लोग कंपनी के एमडी के पीछे घूम रहे हैं। उन्हें तो एमडी मिल रहा और ही पैसे। जिन्हें चेक मिले वे बाउंस हो गए। मंगलवार को जगाधरी बस स्टैंड चौक स्थित राधेश्याम गोल्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के ऑफिस में निवेशकों ने हंगामा किया।

ये निवेश करनाल, कुरुक्षेत्र और पंजाब से पहुंचे थे। उन्होंने कंपनी का शटर गिरा दिया और कर्मचारियों को बाहर निकाल दिया। इससे विवाद बड़ा तो मामला थाने पहुंच गया। दोनों पक्ष जगाधरी शहर थाने में पहुंचे। निवेशकों ने पुलिस में शिकायत दी। जिसमें कहा कि कंपनी का ऑफिस जगाधरी, कुरुक्षेत्र, शामली, मेरठ, नजीबाबाद, अकबरपुर और काशीपुर में है। एमडी विक्रम सिंह चौहान कुरुक्षेत्र के हैं। कई बार उनके घर पर भी गए, लेकिन वे वहां पर भी नहीं मिले। पटियाला निवासी मंदीप सिंह, कुलदीप, करनाल निवासी संजय और शाहबाद निवासी प्रदीप ने बताया कि कंपनी से जब उनका संपर्क हुआ तो उन्हें बताया गया था कि पांच हजार रुपए देने पर कंपनी की ओर से उन्हें 21 हजार रुपए तीन साल में वापस किए जाएंगे। इसके अलावा पांच हजार रुपए देकर 50 हजार रुपए के गोल्ड या सिल्वर की बुकिंग भी कराने की सुव िधा दी थी। शिकायत देने पहुंचे निवेशकों का दावा है कि 20 हजार से ज्यादा लोगों के पैसे लगे हुए हैं। वहीं शहर जगाधरी थाना प्रभारी सचिन कुमार का कहना है कि मामले की जांच के बाद ही कार्रवाई होगी। वहीं कंपनी के जीएम पवन कुमार का कहना है कि यह मामला एमडी लेवल का है। 
आरोपियों में एक महिला भी शामिल, पुलिस मामले की जांच में जुटी