News Description
एसपी साथ फोटो खिंचवाने आरएसओ पदाधिकारी में जूतमपैजार

 

कैथल : यह जिक्र है उन सड़क सुरक्षा प्रहरियों का, जिन्हें पुलिस विभाग की सहभागी संस्था रोड सेफ्टी आर्गेनाइजेशन का कर्ता-धर्ता कहा जाता है। बृहस्पतिवार को इन उम्रदराज प्रहरियों ने एसपी आस्था मोदी के साथ महज एक फोटो ¨खचवाने के लिए जमकर बेहूदगी की। जब नौबत धक्का-मुक्की तक आ गई तो डीएसपी सतीश गौतम को उन्हें दूर हटाना पड़ा। आरएसओ की चौधर के नाम पर यह लोग पहले ही दो धड़ों में बंट चुके हैं। बता दें कि संस्था के पदेन चेयरमैन एसपी होते हैं।

हुआ यूं कि पुलिस विभाग की ओर से सड़क सुरक्षा सप्ताह को लेकर बृहस्पतिवार को जागरूकता रैली निकाली। रैली को हरी झंडी दिखाने के लिए जैसे ही पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी गाड़ी से उतरी तो फोटो ¨खचवाने के चक्कर में आरएसओ व वरिष्ठ नागरिक संगठन के पदाधिकारी दौड़ पड़े। कई पदाधिकारी तो गिरते-गिरते भी बचे।

बड़ी मुश्किल से एसपी रैली में बैनर लिए खड़े विद्यार्थियों तक पहुंच पाई। जैसे ही रैली को रवाना करने के लिए एसपी ने हरी झंडी हाथ में ली तो फिर से कई आरएसओ व वरिष्ठ नागरिक एक दूसरे को धक्का देखते हुए एसपी के साथ फोटो आ जाए इसके लिए आगे आकर खड़े हो गए। यह नजारा देख एसपी रैली को रवाना करते हुए गाड़ी में बैठ कार्यालय के लिए रवाना हो गई। मौके पर मौजूद डीएसपी सतीश गौतम ने सभी को फटकार लगाते हुए यहां तक कह दिया कि अगर सिर्फ फोटो ¨खचवाना ही मकसद है तो यहां आने की जरूरत नहीं है।