News Description
आठ मैकेनिकल स्वी¨पग मशीनों से चमकेंगी साइबर सिटी की सड़कें

गुरुग्राम साइबर सिटी की सड़कों की सफाई अब हाइटेक मैकेनिकल स्वी¨पग मशीनों से होगी। 4 नई मशीनों के लिए नगर निगम ने टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी है। नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक मार्च में ये मशीनें सड़कों की सफाई शुरू कर देंगी। फिलहाल नगर निगम के पास चार मैकेनिकल स्वी¨पग मशीनें हैं, जिनको एक प्राइवेट एजेंसी से हायर किया गया है। नगर निगम अधिकारियों का दावा है कि पुरानी स्वी¨पग मशीनों की तुलना में चार नई मशीने काफी नई तकनीक की होंगी और सड़कें भी पहले से बेहतर तरीके से साफ होंगी।

बता दें कि मुख्य सड़कों के सैंकड़ों किलोमीटर लंबे क्षेत्र की सफाई के लिए काफी मैनपावर की जरूरत होती है। मैकेनिकल स्वी¨पग मशीन से कई किलोमीटर की सफाई कुछ ही घंटों में हो जाती है। खास बात यह है कि नई मशीनों के साथ एक पानी का टैंक भी लगा होगा, जिससे सड़कों की सफाई के दौरान पानी का छिड़काव होगा।

पानी के टैंक की होगी 800 लीटर क्षमता

नगर निगम पास मौजूद 4 स्वी¨पग मशीनों में 300 लीटर क्षमता का पानी का टैंक लगा हुआ है। कम क्षमता होने के कारण बार-बार इसमें पानी भरना पड़ता है। नई मशीनों में 800 लीटर क्षमता का टैंक लगा होगा, जिससे बार-बार पानी भरने की जरूरत नहीं होगी और काफी दूर तक सड़कों की सफाई के दौरान पानी का छिड़काव किया जा सकेगा।

डस्ट स्टोर की क्षमता होगी ज्यादा

स्वी¨पग मशीन सड़क की सफाई के दौरान ब्रश चलाकर रोड पर जमा मिट्टी और डस्ट को खींच लेती है। नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक चार नई स्वी¨पग मशीनों में डस्ट स्टोर करने की क्षमता पुरानी मशीनों से ज्यादा होगी। नए व पुराने शहर में सड़कों की सफाई मशीनों से होने के कारण काफी फायदा मिलेगा। फिलहाल रात को जोन वाइज मशीनों से सड़कों की सफाई की जा रही है। नगर निगम में पहले से चल रही स्वी¨पग मशीनों की स्थिति ज्यादा ठीक नहीं है और एजेंसी द्वारा करवाई जा रही सफाई व्यवस्था की मॉनीट¨रग जरूरी है।