# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
नागरिक अस्पताल की व्यवस्था जानने पहुंची स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम

सोनीपत : नागरिक अस्पताल में बृहस्पतिवार को मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ फैमिली वर्क की दो सदस्यीय टीम व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंची। इस दौरान टीम ने अस्पताल की सफाई व्यवस्था के साथ अन्य सुविधाओं का जायजा लिया। टीम के सदस्य ने अस्पताल के अंदर की सफाई व्यवस्था पर तो संतुष्टि जताई, लेकिन अस्पताल प्रबंधन को आंगन में सफाई व्यवस्था सुधारने की बात कही।

नागरिक अस्पताल में हर रोज करीब 1200 मरीज अपनी बीमारियों का इलाज कराने के लिए आते हैं। अस्पताल प्रबंधन की ओर से मरीजों को बेहतर इलाज के साथ अन्य बेहतर सुविधाएं देने का भी दावा किया जाता है। वहीं सफाई व्यवस्था को कायम रखने का भी प्रशासन का दावा है। अस्पताल में इन्हीं सुविधाओं का जायजा लेने के लिए बृहस्पतिवार को मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ फैमिली वर्क की दो सदस्यीय टीम नागरिक अस्पताल पहुंची। टीम में शामिल सदस्य डॉ. मनमोहन ¨सह ने अस्पताल के केएसमी, ऑपरेशन थियेटर, ओपीडी समेत अन्य जगहों पर सफाई व्यवस्था का दौरा किया। साथ ही डॉ सुधीर ने मेडिसिन संबंधित अन्य सुविधाओं का जायजा लिया। इस दौरान पीएमओ डॉ सीपी अरोड़ा ने स्टाफ सदस्यों के साथ मिलकर अस्पताल का दौर करवाया।

स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत टीम यह व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंची थी। अस्पताल के अंदर सफाई की अन्य व्यवस्थाएं ठीक मिली, लेकिन अभी आंगन में सफाई पर ओर जोर दिया जाना बाकी है। इसके लिए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। साथ ही रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को सौंपी जाएगी