# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
साइको किलर: पलवल पुलिस भिवानी पर थोप रही अपनी लापरवाही का दोष

पलवल : साइको किलर नरेश धनखड़ द्वारा छह लोगों की हत्याओं के मामले में स्थानीय पुलिस अब भिवानी पुलिस पर दोषारोपण कर रही है। हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी टीम के एक सदस्य ने बताया कि यदि 28 तारीख को भिवानी में नरेश द्वारा सहकर्मियों के साथ झगड़े में भिवानी पुलिस द्वारा राजीनामा कराने की बजाए कार्यवाई कर ली जाती तो शायद 6 मासूम लोगों की जान बच जाती।

हत्या की वारदातों से करीब 15 घंटे पहले आरोपी नरेश धनखड़ के खिलाफ महिला थाना पुलिस में छेड़छाड़ व अभद्र व्यवहार की शिकायत पर कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई। इस मामले में जिला पुलिस वारदात वाले दिन से ही चुप्पी साधे है।

बता दें कि छह घरों की खुशियां छीनने वाले नरेश धनखड़ ने एक जनवरी को ओमेक्स सिटी में एक महिला के साथ अपशब्द बोलते हुए आपत्तिजनक बातें कही थी। महिला के परिजन पड़ोस के कुछ लोगों के साथ महिला थाने में भी गए थे तथा आरोपी के खिलाफ लिखित शिकायत दी गई थी। सूत्रों के अनुसार शिकायत की जानकारी पुलिस के एक बड़े अधिकारी को भी थी। पुलिस के इस अधिकारी ने महिला थाने में फोन कर कार्रवाई करने के आदेश भी जारी दिए थे। महिला थाना इसके बावजूद शिकायत को दबा कर बैठी रही। अगले दिन यानि दो जनवरी की सुबह जब नरेश धनखड़ ने मौत का तांडव खेलते हुए छह लोगों की जान ले ली, तो उस शिकायत को फाड़ कर फेंक दिया गया।