News Description
पंचकूला कांग्रेस अध्यक्ष के लिए माननीय फिट करने लगे गोटी

पंचकूला : राष्ट्रीय स्तर पर राहुल गांधी और प्रदेश स्तर पर अशोक तंवर के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद अब जिला स्तर पर अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठने के लिए कई लोग लालायित हो रहे है। इस समय कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है, जिसका जिले में कोई प्रधान नहीं है और हैरानी की बात यह है कि यह पद पिछले साढ़े तीन साल से खाली है। अब अशोक तंवर को फिर से एक्सटेशन मिलने के बाद जिला अध्यक्ष के लिए लॉबिंग शुरू हो गई है। मुकेश मल्होत्रा का कार्यकाल समाप्त होने के बाद से अध्यक्ष का पद खाली है। इस पद के लिए कई बड़े कांग्रेस नेता लाइन में लगे हैं। हालांकि कुछ जाने-पहचाने चेहरे अब जिले की राजनीति से ऊपर उठकर प्रदेश की राजनीति में कदम रख चुके हैं। फिर भी वे जिले की राजनीति में ज्यादा सक्रिय हैं।

पंचकूला में राज्यसभा सदस्य कुमारी सैलजा के समर्थकों दबदबा काफी अधिक है। सैलजा अंबाला से सांसद रह चुकी है, इसलिए उनका पंचकूला में भी काफी जनाधार है। जिला अध्यक्ष की कुर्सी पर मुकेश मल्होत्रा भी उनके गुट से थे। इस बार भी इस पद पर सैलजा का सिक्का चलने की संभावना है। जिला अध्यक्ष के लिए सबसे आगे पवन मित्तल, पूर्व उपप्रधान तरसेम गर्ग और पार्षद लिली बावा का नाम चल रहा है। इसके अलावा सैलजा गुट से ही वरिष्ठ नेता राजबीर चौधरी और पार्षद भावना गुप्ता के नाम भी सामने आ रहे हैं।

तंवर गुट से ओमप्रकाश देवीनगर, राजेश कोना, राकेश सौंधी का नाम आगे

इसी तरह अशोक तंवर यदि किसी अपने ही समर्थक को जिला अध्यक्ष की कुर्सी देना चाहेगे, तो ओमप्रकाश देवीनगर, राजेश कोना, राकेश सौंधी, दलबीर वाल्मीकि या फिर मनवीर कौर गिल की भी किस्मत खुल सकती है।