News Description
मांगों को लेकर 30 को कर्मचारी करेंगे जेल भरो आंदोलन

करनाल केंद्रीय ट्रेड यूनियनों व कर्मचारी संघों के आह्वान पर 30 जनवरी को करनाल में जेल भरो आंदोलन किया जाएगा। जिसमें बड़ी संख्या में कर्मचारी गिरफ्तारियां देंगे। इस आंदोलन के लिए कर्मचारियों ने कमर कस ली है। बुधवार को संयुक्त कर्मचारी मंच की ओर से राजीव गांधी विद्युत सदन में कन्वेंशन का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता हरियाणा कर्मचारी महासंघ के जिला प्रधान प्रेम ¨सह राणा व सर्व कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष ओमप्रकाश सिहमार ने की। संचालन सुशील गुर्जर और राकेश गौतम ने संयुक्त रूप से किया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार कर्मचारी विरोधी नीतियां लागू कर रही है, इससे कर्मचारी आहत हैं। सरकार और अधिकारियों के टालमटोल के रवैये से कर्मचारी परेशान हैं। प्रदेशभर के कर्मचारी अपने-अपने जिलों में 30 जनवरी को गिरफ्तारियां देंगे। ट्रेड यूनियनों व कर्मचारी संघों की मांग है कि महंगाई पर रोक लगाई जाए व राशन वितरण प्रणाली को सर्वव्यापी बनाया जाए। सरकार बेरोजगारी को खत्म कर स्थाई रोजगार दे। श्रम कानूनों की सख्ती से पालना करवाई जाए। सभी कर्मचारियों को सामाजिक सुरक्षा मिले, ट्रेड यूनियनों का पंजीकरण 45 दिन के अंदर अनिवार्य किया जाए। कच्चे कर्मचारियों को जल्द से जल्द पक्का किया जाए और समान काम समान वेतन के कोर्ट के निर्देश को सरकार लागू करे। इसके अलावा आंगनवाड़ी व आशा वर्करों को सरकारी कर्मचारी घोषित किया जाए। किसानों का कर्जा माफ हो और फसलों के उचित दाम मिले।महासंघ के महासचिव राकेश गौतम ने बताया कि संघ की ओर से मांगों को लेकर हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत की गई है जोकि 31 जनवरी तक चलेगा। इस अवसर पर इंटक प्रधान जगमाल ¨सह, सीटू प्रधान जगपाल राणा, किसान मजदूर यूनियन जिला प्रधान बीर ¨सह लाठर, संयुक्त कर्मचारी मंच के अध्यक्ष जोगीराम शर्मा, खेत मजदूर यूनियन से अध्यक्ष जगमाल ¨सह, रिटायर्ड कर्मचारी संघ से राज्य उपप्रधान वाईपी यादव, हरिचंद सैनी, हरिचंद सैनी, माईचंद शर्मा, बलबीर शर्मा, रामकुमार प्रजापत, सतपाल सैनी, ओपी माटा, कृष्ण शर्मा, राजकुमार चौधरी, रोशनलाल गुप्ता, श्रीराम शर्मा, एनपी ¨सह, विश्वनाथ शर्मा, देवेंद्र शर्मा, बलबीर शर्मा, कृष्ण चंद व अव्वल ¨सह मौजूद रहे।