# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
धूमधाम से मनाया जाएगा अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव

फतेहाबाद: सरस्वती नदी व इसके आसपास विकसित हुई विश्व की प्राचीन सभ्यताओं के बारे में लोगों को जागरूक करने को लेकर हरियाणा में आगामी 18-22 जनवरी तक अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। हरियाणा सरस्वती हैरिटेज महोत्सव डेवलेप्मेंट बोर्ड द्वारा सिरसा से सरस्वती हैरिटेज यात्रा का प्रारंभ होगा, जो 19 जनवरी को जिला फतेहाबाद पहुंचेगी। यात्रा में प्रदर्शनी के माध्यम से सरस्वती नदी व इसके किनारों पर विकसित हुई सभ्यताओं की जानकारी को प्रदर्शित किया जाएगा। उपायुक्त डा. हरदीप ¨सह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार अंतर्राष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव 2018 का आयोजन कर रही है। इसी कड़ी में सरस्वती हैरिटेज यात्रा निकाली जाएगी।

यात्रा की तैयारियों को लेकर बुलाई गई बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि इस यात्रा का मकसद प्रदेश के जल संसाधनों को निर्मल व स्वच्छ रखने के बारे में जागरूक भी करना है। उपायुक्त ने बताया कि विभिन्न सैटेलाईट रिपोर्ट के आधार पर यह सिद्ध हुआ है कि भूमि के नीचे आज भी सरस्वती नदी का प्रवाह है। सैटेलाईट के आधार पर ही इस पवित्र नदी का उदगम स्थल व प्रवाह रास्ते का मानचित्र तैयार किया गया है। उपायुक्त ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे फतेहाबाद में बनावाली, भिरड़ाना और कुनाल के जिन-जिन स्थानों पर सरस्वती नदी का प्रवाह था, उन रास्तों के समीप आने वाले स्कूलों में पौधारोपण भी किया जाए। शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए उपायुक्त ने कहा कि वे आयोजित होने वाले कार्यक्रम में बेहतर एवं भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करें। सरस्वती यात्रा में शामिल कलाकारों सहित अन्य मेहमानों के ठहरने तथा खानपान का उचित प्रबंध किया जाए। उन्होंने बताया कि पूरे कार्यक्रम के बेहतर संचालन के लिए उपमंडलाधीश फतेहाबाद सतबीर ¨सह जांगु को नोडल अधिकारी लगाया गया है। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. जेके आभीर, एसडीएम सतबीर जांगु, सीटीएम देवीलाल सिहाग, डीआरओ बिजेन्द्र भारद्वाज, डीएफओ राजेश माथुर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।