News Description
ट्रेन में यात्री को लूटने के चार आरोपी गिरफ्तार

भिवानी : जयपुर-भिवानी रेलगाड़ी में 20 नवंबर को राजस्थान के यात्री के साथ हुई लूट की घटना के मामले में जीआरपी ने चार युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने चारों को न्यायालय में पेश किया, जहां आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। चारों आरोपी पेशेवर अपराधी हैं और उनके खिलाफ पहले भी कई मामले दर्ज हैं। मिली जानकारी के अनुसार राजस्थान निवासी नीरज 20 नवंबर 2017 को जयपुर-हिसार ट्रेन में यात्रा कर रहा था। इसी दौरान आरोपियों ने हथियार के बल पर नीरज से मोबाइल व साढ़े 6 हजार रुपये छीन लिए थे। इस पर पीड़ित ने इसकी शिकायत रेलवे पुलिस को दी। पुलिस तभी से इन बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर रही थी। मनोज नामक युवक को सीआइए दादरी ने पकड़ा था। जीआरपी उसे प्रोडक्शन वारंट पर ले आई। मनोज ने पुलिस पूछताछ के दौरान शेष तीनों के नाम भी उगल दिए और उनके ठिकाने बता दिए। जीआरपी ने शेष तीनों को भी काबू करने में सफलता हासिल कर ली। जीआरपी भिवानी इंचार्ज स्नेही राज ने बताया कि 20 नवंबर को ट्रेन में हुई लूट मामले में पुलिस गहनता से जांच कर रही थी। इसी दौरान दादरी के पावा चौक निवासी मनोज उर्फ भोंदू को दादरी सीआइए ने गिरफ्तार किया। मनोज ने पूछताछ में भिवानी ट्रेन में लूट मामले को कबूला। इस पर जीआरपी पुलिस मनोज को प्रोटेक्शन वारंट पर ले आई। मनोज उर्फ भोंदू से गहन पूछताछ में उसने अपने तीनों साथियों के नाम उगल दिए। पुलिस ने उसके तीनों साथियों को उनके घरों से ही गिरफ्तार किया। आरोपियों के पास से 3 मोबाइल फोन, साढ़े 6 हजार रुपये व नकली पिस्तौल मिली है। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर पूछताछ आरंभ कर दी। इस दौरान एसआइ धर्मबीर, एएसआइ जितेंद्र, एएसआइ सुशील, विष्णु भी शामिल रहे।