# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
हेल्थ से संबंधित रिपोर्ट पर लैब टैकनिशियन के हस्ताक्षर मान्य नहीं होंगे-डा० योगेश शर्मा

सिविल सर्जन डा० योगेश शर्मा ने  मंगलवार को माल रोड़ स्थित अपने कार्यालय में प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम के तहत गठित जिला सलाहकार समिति की मासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि अस्पतालों में मरीजों को मिल रही उनकी हेल्थ से संबंधित रिपोर्ट पर लैब टैकनिशियन के हस्ताक्षर मान्य नहीं होंगे,इस रिपोर्ट पर कम से कम एमबीबीएस डॉक्टर या फिर उससे उपर की डिग्री के डॉक्टर हस्ताक्षर करेंगे तभी यह रिपोर्ट मान्य होगी। संबंधित अस्पताल के टैकनिशियन इस बारे में यदि लापरवाही करते पाये गए तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। 
सीएमओ ने बैठक में बताया कि जिले में जून 2017 के अनुसार लिंगानुपात एक हजार लडक़ों के अनुपात में लड़कियों की संख्या 938 तक है और वह दिन दूर नहीं जब यह आंकड़ा एक हजार होगा। सीएमओ ने कहा कि अल्ट्रासाउंड से लिंग की जांच करवाकर भू्रण हत्या करने वाले की जानकारी देने वाले को एक लाख रूपये ईनाम के रूप में दिए जाएंगे तथा सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा। सभी के सहयोग से जिले में लिंगानुपात में सुधार हो रहा है।
बैठक में असंध करनाल रोड़ पर स्थित किरणदीप अल्ट्रासांउड सेंटर में डॉक्टर किरण मान को रविवार के दिन अल्ट्रासांउड करने के नये पंजीकरण से संबंधित प्रार्थनापत्र पर विचार विमर्श किया गया तथा यह निर्णय लिया गया कि संबंधित अल्ट्रासांउड सेंटर की इंस्पेक्शन की जाएगी। मधुसूधन रेडियो डाईग्रोस्टिक्स सेंटर में सिटी स्कैन के पंजीकरण से संबंधित इंस्पेक्शन की जाएगी तथा हरियाणा नर्सिंग होम में अल्ट्रासांउड केन्द्र के नये पंजीकरण के लिए इंस्पेक्शन की जाएगी। बैठक में समिति ने निर्णय लिया कि अल्ट्रासाउंड से संबंधित कार्यो के लिए पार्क अस्पताल से डॉक्टर अरूण गोयल का नाम हटाया जाए तथा डॉक्टर मिथलेश भल्ला को पार्क अस्पताल में अल्ट्रासांउड करने के लिए अनुमति प्रदान की जाए। पीएमओ करनाल कार्यालय में डॉक्टर हिमांशु सिंगला का नाम रेडियोलोजिस्ट के लिए जोड़ा गया तथा वह कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में अल्ट्रासांउड भी करेंगे। इस पर भी समिति ने सहमति जताई। इस अवसर पर अमर अस्पताल असंध,आरपी वेल्टर अस्पताल घरौंडा,विरेन्द्र अस्पताल असंध,लाईफ लाईन अस्पताल से संबंधित विषयों पर भी बैठक में विचार विमर्श किया गया