News Description
महिलाओं का आत्मनिर्भर बनना जरूरी: डा. तेतरवाल

 भिवानी : महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वावधान में भीम खेल परिसर में आयोजित दो दिवसीय महिला खेलकूद प्रतियोगिता का बुधवार को समापन हो गया। अतिरिक्त उपायुक्त डा. संगीता तेतरवाल ने विजेता महिलाओं को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनना जरूरी है। उन्होंने कहा कि खेलकूद को जीवन में विशेष महत्व है। खेलों से अपनी अलग पहचान बनाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि खेल में हार से ही जीतने का सबब मिलता है। खेल में हार जीत कोई मायने नहीं रखती और हार से निराश नहीं होना चाहिए। इस दौरान महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी दीपिका बजाज ने कहा कि महिलाओं के जीवन उत्थान के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं। जिनका महिलाओं को लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि महिलाओं को जागरूक होने की जरूरत है। जिला स्तरीय प्रतियोगिता में पांच कि.मी साइकिल रेस में दादरी द्वितीय खंड से नीमल चिड़िया ने पहला, भिवानी की प्रथम की सरिता चांग ने दूसरा और दादरी प्रथम की किरण लांबा ने तीसरा स्थान पाया। 400 मीटर रेस में भिवानी द्वितीय से पूजा देवसर ने पहला, बवानीखेड़ा खंड से कविता दुर्जनपुर ने दूसरा, इसी खंड से गीता जाटू लोहारी ने तीसरा स्थान पाया। 300 मीटर रेस में खंड बवानीखेड़ा से मंजू दुर्जनपुर ने पहला, भिवानी प्रथम से प्रियंका तालू ने दूसरा और तोशाम खंड से नीलम बिडौला ने तीसरा स्थान पाया। 100 मीटर रेस में खंड बहल से बिमला बहल पहले, भिवानी प्रथम ग्रामीण से अनीता धनाना प्रथम ने दूसरा, कैरू खंड से सुमनबाला गोलागढ़ ने तीसरा स्थान हासिल किया। मटका रेस में लोहारू खंड से बीरमती बिठन पहले, बाढड़ा खंड से नीमद दूसरे और दादरी द्वितीय खंड से मंजू अटेला कलां ने तीसरा स्थान पाया। इसी प्रकार से पोटटो रेस में बहल खंड से संतोष चैहड़ कलां ने पहला, भिवानी प्रथम ग्रामीण से प्रोमिला निनाण ने दूसरा और भिवानी द्वितीय दर्शना भिवानी ने तीसरा स्थान पाया।