# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
यह कैसी पुलिस : रात में सुनसान थाने, पुलिस चौकियों के गेट बंद

रोहतक: शहर में अपराध चरम पर है। हत्या और लूट की घटनाओं से शहरवासी खौफजदा है। बावजूद इसके शहर की पुलिस की कार्यशैली कुछ अलग ही है। हालात यह है कि रात के समय थानों के गेट पर न कोई संतरी और न ही कोई पुलिसकर्मी दिखाई देता है। वहीं चौकियों के गेट भी बंद रहते हैं। जिससे रात के समय किसी भी वारदात से पीड़ित को शिकायत दर्ज कराने में ही परेशानी होती है। शहर के कई प्रमुख थाने और पुलिस चौकियों की लाइव रिपोर्टिंग की। इस दौरान पुलिस थाने और चौकियों का जो नजारा सामने आया वह आपके सामने हैं।

मंगलवार रात सबसे पहले सिटी थाने में पहुंची। सिटी थाने के हालात देखकर यह नहीं लग रहा था कि यह थाना है या फिर कोई सुनसान बि¨ल्डग। थाने के गेट पर न कोई संतरी और न ही कोई पुलिसकर्मी तैनात। न ही कोई टीम से यह पूछने वाला था कि इतनी रात में यहां क्या कर रहे हो। इसके बाद टीम पहली मंजिल पर बने थाने के दफ्तर और हवालात के पास पहुंची। यहां पर एक बंदी सो रहा था, जबकि पूरे थाने में केवल मुंशी के कार्यालय में पांच-छह पुलिसकर्मी बैठे हुए थे। टीम को देखते ही वह हरकत में आ गए और अपने-अपने काम में लग गए।

सिटी थाने के बाद टीम ने इंदिरा कॉलोनी पुलिस चौकी का रूख किया। यहां का नजारा ही कुछ अलग था। इसी चौकी से 200 मीटर दूरी पर गत सप्ताह दो पक्षों के बीच खूनी संघर्ष हुआ था, जिसमें एक बच्चे की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। दोनों पक्षों में अब भी तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है। इसके चलते वहां पर पुलिस तैनात है, लेकिन पुलिस चौकी को देखें तो मुख्य गेट बंद था और अंदर अंधेरा था।