# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
महिला बॉक्सरों ने हरियाणा सरकार को वापस लौटाई गाय

रोहतक: यूथ व‌र्ल्ड बॉ¨क्सग चैंपियनशिप में पदक जीतने वाली छह महिला बॉक्सरों को सरकार की गाय रास नहीं आई है। पहले ही तीन बॉक्सरों ने सरकार को गाय वापस लौटा दी थी और अब एक और बेटी ने गाय वापस कर दी है, जबकि बाकी दो बॉक्सर भी सरकार को गाय लौटा रही है। महिला बॉक्सरों का कहना हैं कि गाय दूध नहीं दे रही है और परिवार के सदस्यों को सींग भी मारती है। इसलिए इन्हें वापस लौटाया जा रहा है। गायों के वापस लौटाए जाने के कारण कृषि एवं पशुपालन विभाग में हड़कंप की स्थिति है। वहीं कृषि मंत्री का कहना हैं कि बेटियों को जिस डेयरी से गाय चाहिए, वह अपनी पसंद की गाय ले सकती है।

बता दें कि गुवाहाटी में 19 से 26 नवंबर तक यूथ व‌र्ल्ड वूमन बॉ¨क्सग चैंपियनशिप का आयोजन किया गया था। इस चैंपियनशिप में भिवानी के धनाना की साक्षी ने 54 किग्रा और नीतू ने 48 किग्रा, रोहतक के रूड़की की ज्योति गुलिया ने 51 किग्रा, हिसार की शशि चोपड़ा ने 57 किग्रा में स्वर्ण जीता था। जबकि पवल की अनुपमा ने 81 किग्रा और कैथल की नेहा यादव ने कांस्य पदक हासिल किया।

राजीव गांधी स्टेडियम में स्थित साई नेशनल बॉ¨क्सग एकेडमी में आयोजित सम्मान समारोह में कृषि मंत्री ओपी धनखड़ ने सभी छह विजेता बेटियों को पुरस्कार में देसी गाय देने की घोषणा की थी। घोषणा के अनुरूप सभी विजेता बॉक्सरों को 12 दिन पहले गाय भी दी गई। अब किसी भी विजेता को गाय रास नहीं आ रही है। सभी विजेता बॉक्सर दूध न देने के कारण गायों को वापस कर रही है।

कृषि एवं पशुपालन विभाग की ओर से रोहतक की डेयरी से विजेता बॉक्सरों के घर एक-एक देसी गाय भिजवाई गई, लेकिन उनके घरों में पहुंचते ही गाय ने दूध नहीं दिया। जबकि बॉक्सरों ने उनके खान-पान व अच्छी देखभाल की जिम्मेदारी निभाई। फिर भी दूध न देने के कारण तीन बॉक्सर नीतू, ज्योति गुलिया और शशि चोपड़ा पहले ही गायों को वापस लौटा चुकी है। बुधवार को साक्षी ने भी गाय को वापस भिजवा दिया है। जिससे पशुपालन विभाग में हड़कंप मच गया था।