News Description
कंप्यूटर आपरेटरों की सांकेतिक धरना प्रदर्शन से परेशान लोग

नूंह : करनाल में प्रदर्शन कर रहे कंप्यूटर आपरेटरों पर हुए लाठी चार्ज व दस कंप्यूटर आपरेटरों को गिरफ्तार करने के विरोध में सोमवार को नूंह जिले के सभी कंप्यूटर आपरेटरों ने एक दिन का सांकेतिक धरना प्रदर्शन किया।

इस दौरान जिले के करीब 40 कंप्यूटर आपरेटरों से भी कार्यालयों का कामकाज ठप रखा। कंप्यूटर आपरेटरों की मांग थी कि सरकार पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए दस कंप्यूटर आपरेटरों को जल्द से जल्द रिहा करे। अगर सरकार ने ऐसा नहीं किया तो यह सांकेतिक धरना प्रदर्शन अनिश्चितकालीन हड़ताल में बदला जाएगा। सोमवार को जिले के कंप्यूटर आपरेटरों की हड़ताल से तहसील, एसडीएम आफिस सहित दूसरे कार्यालयों का कामकाज ठप रहा। इस दौरान कंप्यूटर आपरेटरों की यूनियन कंप्यूटर प्रोफेशनल संघ के राज्य कार्यकारिणी सदस्य जुबेर अहमद, संघ के जिला प्रधान संजीत, सोयब, ताजिद, सुंदर, मनोज, संदीप, सुमित, देवव्रत व कपिल ने रोष जताते हुए कहा कि करनाल में कंप्यूटर आपरेटरों के साथ पुलिस का बर्ताव शर्मनाक है। हम इस घटना की ¨नदा करते हैं। हमारी सरकार से यही मांग है कि वह जल्द से जल्द गिरफ्तार किए गए दस कंप्यूटर आपरेटरों को रिहा कराए।

लंबी छुट्टी के बाद अपने कार्यों से लघु सचिवालय पहुंचे लोगों को कंप्यूटर आपरेटरों की हड़ताल के कारण बैरंग लौटना पड़ा। इस दौरान लोग भाजपा सरकार को कोसते नजर आए। ताहिर, मुबीन, असलम, शाद अहमद, जाकिर सहित कई लोगों ने बताया कि पहले ही दो दिन की छुट्टी थी। सोमवार को अपने कार्यों के लिए लघु सचिवालय पहुंचे। लेकिन वहां जाकर पता चला कि कंप्यूटरों पर बैठने वाले ही धरने पर बैठे हैं। सरकार की बेरुखी के चलते तीसरे दिन भी लघु सचिवालय से बैरंग लौटना पड़ा।