News Description
क्राइम ब्रांच रोकेगी यमुना रेत का अवैध खनन

 फरीदाबाद : जिले में रात के समय होने वाले अवैध रेत खनन को रोकने के लिए पुलिस आयुक्त डॉ. हनीफ कुरैशी ने क्राइम ब्रांच को जिम्मा सौंपा है। क्राइम ब्रांच मुख्यालय प्रभारी इंस्पेक्टर सतेंद्र रावल के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया है। यह टीम रात के समय उन जगहों पर गश्त करेगी जहां से यमुना रेत का अवैध खनन होता है। रेत ले जाते समय पकड़ जाने पर पुलिस ट्रैक्टर-ट्रॉली या डंपर को जब्त कर संबंधित थाने में मुकदमा दर्ज कराएगी, साथ ही खनन विभाग को सूचित कर मौके पर बुलाएगी। खनन विभाग भी अपनी कार्रवाई करेगा।

काफी दिनों से पुलिस आयुक्त को रात में अवैध रूप से यमुना से रेत खनन की शिकायतें मिल रही थीं। थानों की पुलिस इन्हें पूरी तरह रोकने में असफल साबित हो रही थी। इसलिए पुलिस आयुक्त डॉ. हनीफ कुरैशी ने अवैध खनन रोकने के लिए क्राइम ब्रांच की सहायता लेने के आदेश दिए, जिसके बाद टीम गठित की गई।

जिले में रेत खनन के लिए प्रशासन ने ठेका छोड़ा था, लेकिन अदालत की रोक के कारण खनन शुरू नहीं हो सका। इससे जिले में अवैध खनन बढ़ गया। अब यमुना से लगते गांवों के लोग रात में अपने ट्रैक्टर-ट्रॉली या डंपरों से खनन करते हैं। अवैध खनन में कुछ दबंग किस्म के लोग भी शामिल हैं, जिनकी राजनैतिक पकड़ अच्छी है। ये लोग इस पकड़ का फायदा उठाकर अवैध खनन कराते हैं। खनन करने वाले वाहन रात में ताबड़तोड़ गति से वाहन चलाते हैं, जिससे हादसों की आशंका रहती है।

अवैध रेत खनन रोकने पर सख्ती के लिए ही क्राइम ब्रांच को यह जिम्मा सौंपा गया है। टीम ने गश्त शुरू कर दी है और अब तक सात डंपरों को पकड़ा भी जा चुका है। यह अभियान लगातार जारी रहेगा। अवैध खनन करने वालों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा