News Description
चैंबर ड्रा विवाद, दोनों पक्षों के वकीलों ने रखा पक्ष

पानीपत: बार चैंबर फेस-2 बिल्डिंग में बने 130 में से 129 चैंबर के ड्रा को लेकर उठे विवाद को सुलझाने के लिए जिला बार एसोसिएशन, पानीपत ने दोनों पक्षों की मंगलवार को बैठक बुलाई। द पानीपत लॉयर चैंबर कंस्ट्रक्शन सोसायटी के सदस्यों और हाई कोर्ट में याचिका दायर कराने वाले वकीलों ने अपना-अपना पक्ष रखा। बार ने इसे परिवार के बीच का विवाद बताकर, शुक्रवार को समझौता बैठक बुलाई है।

बार एसोसिएशन के प्रधान एडवोकेट निर्मल सिंह गुर्जर ने बताया कि 520 वकीलों को चैंबर उपलब्ध कराने के लिए न्यायालय परिसर में 130 चैंबरों का निर्माण व फिनिशिंग कार्य अंतिम चरण में है। द पानीपत लॉयर चैंबर कंस्ट्रक्शन सोसाइटी ने 24 अगस्त को 129 चैंबर्स का ड्रा निकाला था। एक वकील के नाम डबल ड्रा, मृत वकील के नाम ड्रा, सरकारी नौकरी करने वाले वकीलों के नाम ड्रा का आरोप लगाते हुए एडवोकेट संदीप मलिक सहित 23 वकीलों ने ड्रा के विरुद्ध हाई कोर्ट में याचिका भी दायर की हुई है। केस की सुनवाई 24 जनवरी को होनी है। वकीलों के बीच का विवाद आपसी सहमति से सुलझ जाए, इसके लिए दोनों पक्षों की बैठक बुलाई गई । दोनों पक्षों ने अपना-अपना पक्ष मजबूती से रखा और विवाद को जल्द निपटाने के पक्षधर दिखे। एसोसिएशन प्रधान की मानें तो शुक्रवार को पुन: समझौता बैठक बुलाई गई है।

समझौता होने पर हाई कोर्ट में उसकी कॉपी लगा दी जाएगी। किसी वजह से दोनों पक्ष रजामंद नहीं हुए तो हाई कोर्ट के निर्णय का इंतजार किया जाएगा।