News Description
विवेकानंद को पढ़ो और जानो, भारत के दर्शन होंगे : सोलंकी

पिंजौर : हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि रविन्द्र नाथ टैगोर की लाइनों में कहा गया है कि यदि भारत के बारे में जानना है, तो स्वामी विवेकानंद को पढ़ो और जानो, तो भारत के बारे में पता चलेगा। यदि भारत के दर्शन करने है, तो पिंजौर में स्थित विराट नगर में आएं। यहा पर ऐसा सुखमय वातावरण है, जिससे हमें शाति प्राप्त होती है।

राज्यपाल मंगलवार को जिले के अंतर्गत पड़ने वाले गाव विराट नगर में स्थित महर्षि ब्रह्मा आश्रम में ब्रह्मार्षि भंवरा की जयंती महोत्सव के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम कई प्रकार के होते हैं। किसी कार्यक्रम में मनोरजन होता है, तो किसी कार्यक्रम से बुद्धि अच्छी होती है और यदि किसी कार्यक्रम में संत एवं एक भी संन्यासी उपस्थित हो जाता है, तो उस कार्यक्रम से मन, बुद्धि और आत्मा प्रसन्न हो जाती है।

हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि भारत ज्ञान-विज्ञान एवं सत्य पर आधारित है और यह सत्य एवं ज्ञान ब्रह्मार्षि आश्रम के माध्यम से और कोई नहीं दे सकता। उन्होने कहा कि यहा पर ब्रहर्षि भंवरा की समाधि है और वे अब भी यहीं पर है। इसलिए यहा पर पर हमें आने से शाति प्राप्त होती है। उन्होंने ब्रहम आश्रम की बहना की समाज कल्याण की दिशा में चलाई जा रही गतिविधियों की चर्चा करते हुए उन्हे नमन् किया।

उन्होंने अपनी ओर से आश्रम के माध्यम से शिक्षा गतिविधियों को चलाने के लिए 11 लाख और वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु की ओर से भी 11 लाख तथा सासद रतन लाल कटारिया की ओर से 21 लाख रूपए की राशि आश्रम को देने की घोषणा की। उन्होंने ब्रह्मार्षि आश्रम के बच्चों, जिन्होंने 85 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किए थे, उन्हे पुरस्कार देकर सम्मानित किया।