News Description
बैठक के दौरान जरूरी दिशा-निर्देश देते अतिरिक्त उपायुक्त निशांत कुमार यादव

करनाल : अतिरिक्त उपायुक्त निशांत कुमार यादव की अध्यक्षता में लघु सचिवालय स्थित सभागार में जिला शहरी योजना (डीटीपी) के तहत् फ्लैट होल्डर की समस्याओं के निवारण के लिए एक शिकायत निवारण बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें शिकायतकत्र्ता तथा विभिन्न प्रोपर्टी डवल्पर कम्पनी जैसे:- जेबीबी, अनसल, मनसा मॉडल टाउनशीप, जेडी यूर्निवर्सल, ट्रयू जोन बिल्ड इत्यादि के जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे। 
बैठक के दौरान अतिरिक्त उपायुक्त ने 10 शिकायतों में से 4 का मौके पर ही समाधान करवाया तथा अन्य समस्याओं के निवारण हेतू एक कमेटी गठित की जो मौका निरीक्षण कर तथा एंग्रीमेंन्ट की नियम एवं शर्तो को ध्यान से चैक करके समस्याओं का निवारण करवाएंगी। उन्होंने कहा कि बकाया शिकायत के  समाधान होने पर भी अगली बैठक में उनकी समीक्षा की जाएगी।  इस दौरान पहला मामला ज्ञान सिंह तथा मिनाक्षी यादव बनाम जेबीबी कम्पनी आया जिसमें अतिरिक्त उपायुक्त ने फ्लैट होल्डर को लोवर कोर्ट के आदेशानुसार उनका अधिकार समय अनुसार देने को कहा जिस पर जेबीबी कम्पनी के प्रतिनिधि ने इसकी हाई कोर्ट में अपील होने की बात कहीं तो अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि अभी तो निर्णय फ्लैट होल्डर के पक्ष में है तो उनको उनका हक दिया जाए। 
इसी तरह बैठक के दौरान मनसा मॉडल टाउनशीप जुण्डला का मामला प्रकाश में आया जिसमें वरिष्ठ नागरिक पी0जे0 द्वारा प्लांट की पूरी पैमेंट करने के बावजूद भी कब्जा न देने की बात कही तो कम्पनी प्रतिनिधि द्वारा प्लांट की रजिस्ट्री करवाने की बात कहीं गई। इस पर अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि आप कम्पनी लैंटरहैंड पर फुल पेमैंट एंग्रीमेंट इनको लिखकर दे जब इनके पास पैसे होंगे तो ये खुद रजिस्ट्री करवा लेंगे, इसी दौरान एक बुजुर्ग महिला द्वारा मनसा मॉडल टाउनशिप में प्लांट की दी गई पेमैंट वापिस करने का मामला सामने आया, उसने बताया कि उसका एकमात्र कमाउ पुत्र की दुर्घटना में मृत्यृ हो चुकी है। जिस कारण से वह इस प्लांट की कीमत नहीं दे सकती बल्कि जो पेमैंट उसने डीलर के माध्यम से उसने जमा करवा रखी है वह उसे वापिस चाहिए। इस पर अतिरिक्त उपायुक्त ने डीटीपी तथा एस0ई0 हुडा को कम्पनी के मालिक से बात कर समस्या का निवारण करने की बात कहीं। 
इस दौरान एडीसी ने सभी फ्लैट होल्डर को एक सही अवासीय कल्याण संघ के चुनाव तथा कम्पनी के प्रतिनिधियों को एंग्रीमैंट अनुसार सभी सुविधाएं समय पर उपलब्ध करवाने तथा समस्याओं को वरीयता के आधार पर निवारण की सलाह दी। इस दौरान डीटीपी, एस0सी0 हुडा, कार्यकारी अभियन्ता उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम, संयुक्त निदेशक तथा अन्य मौजूद रहे।