News Description
सरकार के खिलाफ कर्मचारी महासंघ ने की नारेबाजी

 कैथल: हरियाणा कर्मचारी महासंघ ने सरकार की वादा खिलाफी के विरोध में पिहोवा चौक बिजली बोर्ड में मी¨टग हुई। जिसकी अध्यक्षता जिला वरिष्ठ उप प्रधान ईश्वर ढांडा ने की और मंच का संचालन जिला महासचिव बलवान ¨सह कुंडू ने किया। रोडवेज कर्मचारी यूनियन के प्रांतीय वरिष्ठ उप प्रधान पहल ¨सह तंवर, हरियाणा कर्मचारी महासंघ के प्रांतीय मुख्य संगठन सचिव कुलभूषण शर्मा ने संयुक्त रूप से कहा कि सरकार कर्मचारियों के साथ वादाखिलाफी कर रही है। हरियाणा कर्मचारी महासंघ 20 अगस्त 2017 को करनाल में बहुत बड़ी रैली का आयोजन किया था। सरकार ने वादा किया था कि 18 सितंबर 2017 को बातचीत के द्वारा 26 सूत्रीय मांग पत्र में से 12 मांगें पूरी करने का आश्वासन दिया था, जो कि एक नवंबर 2017 को मांगों को लागू करना था, लेकिन सरकार इन मांगों पर टस से मस नहीं हुई। हरियाणा कर्मचारी महासंघ द्वारा 07 नवंबर 2017 को जेल भरो आंदोलन में बहुत बढ़-चढ़ कर गिरफ्तारियां भी दी गई, फिर भी सरकार द्वारा कर्मचारियों की मांगों की और कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि 01 जनवरी 2018 से 31 जनवरी 2018 तक ब्लाक व जिला स्तर पर हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है। यदि सरकार द्वारा कर्मचारियों की मांगों को अनदेखा किया गया तो आने वाली 20 फरवरी 2018 को सभी विभागों के कर्मचारी हड़ताल पर चले जाएंगे। इस मौके पर महासंघ के जिला वरिष्ठ उप प्रधान ईश्वर ढांडा व जिला चेयरमैन रमेश शर्मा सीवन ने कहा कि भारतीय ट्रैड यूनियनों के संयुक्त आह्वान पर 30 जनवरी 2018 को महासंघ जेल भरो आंदोलन में बढ़-चढ़ कर भाग लेगा। इस अवसर पर प्रेम ¨सह राडी, संदीप शर्मा, इकबाल, रामनिवास, रामदिया, कृष्ण किच्छाना, भगवान शास्त्री, कर्मचंद मलिक, सतनाम ¨सह, दिलबाग ¨सह, बिजेंद्र, कृष्ण, श्रीनिवास, सुरेश ढुल, रामफल सिरटा व महावीर ¨सह मौजूद रहे।