News Description
सीएम ¨वडो में धांधली आई सामने, प्रार्थी बुलाए बिना ही मामला खत्म

हिसार : सीएम ¨वडो की सुनवाई में किस कदर धांधली होती है, इसका खुलासा विराट नगर की सड़क बनाने को लेकर लगाई सीएम ¨वडो के दौरान सामने आया। जब शिकायतकर्ता पतराम को सुनवाई पर बुलाए बिना सीएम ¨वडो के मनोनीत सदस्य और अधिकारियों ने अपने स्तर ही शिकायत का निपटारा कर दिया। ऐसे में जब शिकायतकर्ता ने सीएम ¨वडो की अपडेट रिपोर्ट निकाली तो वह देखकर हैरान रह गया कि बिना बुलाए उसकी सीएम ¨वडो बंद कर दी गई है। सीएम ¨वडो को लेकर हो रही इस धांधली के खिलाफ अब शिकायतकर्ता सीएम ¨वडो में ही शिकायत करने जा रहा है। क्योंकि जिस सड़क का एस्टीमेट बनाकर सीएम ¨वडो का निपटारा किया गया है, वह सड़क आज तक नहीं बनी है।

शिकायतकर्ता पतराम ने बताया कि वह वार्ड 18 स्थित विराट नगर में रहता है। उसने 24 जुलाई 2017 को सीएम ¨वडो में अपने घर के पास सड़क बनाने की अपील की गई थी। इस पर नगर निगम अधिकारियों ने विराट नगर की सात गलियों की एस्टीमेट लिस्ट सीएम ¨वडो के जवाब में भेज दी। हैरानी की बात यह है कि सीएम ¨वडो के मनोनीत सदस्य व निगम अधिकारियों ने सुनवाई के दौरान शिकायतकर्ता को नहीं बुलाया और अपने स्तर पर ही सीएम ¨वडो को बंद कर दिया। नियमानुसार शिकायतकर्ता को मौके पर बुलाया जाना चाहिए, परंतु निगम अधिकारियों ने शिकायतकर्ता को मौके पर बुलाना गवारा नहीं समझा।

..

बॉक्स

छह महीने से नहीं बनी सड़क

शिकायतकर्ता पतराम ने बताया कि सीएम ¨वडो पर एस्टीमेट डालने के बाद उसके घर के चारों ओर सड़क बनाई गई है। लेकिन मेरे घर के बाहर शिकायत के छह महीने बाद भी सड़क नहीं बनी है। सीएम ¨वडो पर शिकायत का निपटारा करने को लेकर किसी अधिकारी ने जानकारी नहीं दी है।