News Description
कर्मचारियों के अनुभव पर सुपरवाइजर लगाने की मांग

यमुनानगर : ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर जिला ग्रामीण सफाई कर्मचारी अनाज मंडी गेट पर सोमवार को एकत्रित हुए। यहां से प्रदर्शन करते हुए सचिवालय पहुंचे, जहां उन्होंने अपनी मांगों का ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा।

प्रदेशाध्यक्ष राजेश कुमार, प्रदेश महामंत्री बालक राम ने बताया कि सरकार द्वारा 2007 में ग्रामीण क्षेत्रों में करीब 11 हजार सफाई कर्मचारी नियुक्त किए गए थे। गांवों की संख्या में गांवों की संख्या के आधार पर वह अपना काम नियमित रूप से करते आ रहे है, लेकिन उन्हें कई समस्याओं से गुजरना पड़ रहा है, जिसका अब तक हल नहीं किया गया है। ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को पक्का किया जाए, ग्रामीण सफाई कर्मचारियों का पीएफ, ईएसआइ लागू किया जाए जबकि प्राईवेट कंपनियों में यह सभी सुविधाएं उपलब्ध है, लेकिन उन्हें नहीं दी जा रही है। कर्मचारियों को अनुभव के आधार पर सुपरवाईजर लगाए जाए पंचायतों द्वारा सफाई कर्मचारियों का शोषण बंद किया जाए। उन्हें कोई छ़ुट्टी नहीं दी जाती, उन्हें सभी सरकारी छुट्टियां दी जाए। मौके पर देवी दयाल, महेश, रणधीर, ओम प्रकाश, राजेश, मुकेश, धर्मवीर, नवीन आदि मौजूद थे।