News Description
निगम ने तैयार की 10 कलाकारों की टीम, गंदगी मिली तो डफली बजेगी

करनाल : नगर निगम ने शहर के नागरिकों को स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 से जोड़ने के लिए नया तरीका खोजा है। जागरूकता बढ़ाने के लिए 10 कलाकारों की टीम तैयार की गई है। इसमें तीन से चार सक्षम युवा भी शामिल रहेंगे। अब शहर में गंदगी मिली तो डफली बजेगी। यह टीम शहर का भ्रमण कर लोगों को स्वच्छता के बारे में विस्तार से बताएगी। कलाकार मुख्य स्थानों पर नाटक पेश करने के साथ ही गाने गाकर भी अभियान के साथ लोगों को जोड़ेंगे।

कलाकार लोगों को बताएंगे कि स्वच्छता का हमारे में जीवन क्या महत्व है। टीम स्वच्छ सर्वेक्षण के हर पहलू की विस्तार से जानकारी देकर बताएगी कि 4000 की परीक्षा में किसके कितने अंक हैं और इन्हें कैसे हासिल किया जा सकता है। कलाकार बताएंगे कि परीक्षा में आम आदमी से लेकर केंद्रीय मंत्रालय की टीम की क्या भूमिका रहेगी?

निगम की यह विशेष टीम शहर के मुख्य स्थानों का मुआयना भी करेगी। दुकानों के आगे गंदगी मिली तो यह टीम वहीं डेरा डाल देगी। स्वच्छता गान बजाया जाएगा, ताकि दुकानदार कचरा सड़क पर फैलाने के बजाय स्वच्छता अभियान में भागीदार बन सकें। निगम अधिकारियों को उम्मीद है कि इस प्रयास से लोग जुड़ेंगे और करनाल स्वच्छता में नया आयाम छू सकेगा।

893 शहरों की लिस्ट जारी, करनाल को करना होगा इंतजार

4 जनवरी से स्वच्छ सर्वेक्षण शुरू हो चुका है। देश के 4041 शहर इसमें हिस्सा ले रहे हैं। केंद्रीय मंत्रालय वेबसाइट पर लिस्ट जारी करती है कि किस शहर में कब टीम सर्वे करेगी। 12 जनवरी तक की सूची जारी कर दी गई है। 893 शहरों के नाम इसमें दिए गए हैं। 12 जनवरी को 128 शहरों में टीम जाएगी। इसमें हरियाणा से केवल कुरुक्षेत्र के लाडवा का नाम शामिल है। इसमें करनाल का नाम नहीं है। यानि हमें अभी इंतजार करना होगा। हालांकि अधिकारियों को उम्मीद थी कि 12 जनवरी की सूची में करनाल का नाम भी आएगा। अब संभावना जताई जा रही है कि 20 से पहले की लिस्ट में पता चल जाएगा कि करनाल में टीम कब आएगी।

12 तक की लिस्ट में प्रदेश के 16 शहरों के नाम

केंद्रीय मंत्रालय ने अब तक तो लिस्ट जारी की है उसमें हरियाणा के 15 शहरों के नाम शामिल हैं। 4 जनवरी प्रदेश के तीन शहरों यमुनानगर, जींद व सिरसा में टीम पहुंची। इसके बाद 8 जनवरी को हरियाणा के पांच शहरों में टीम जाएगी। इनमें भिवानी के चरखीदादरी, जींद के सफीदों, रोहतक के कलानौर, रेवाड़ी व अंबाला से बराड़ा शामिल है। 10 जनवरी को यमुनानगर के रादौर, सिरसा के मंडी डबवाली व झज्जर में टीम पहुंचेगी। इसके बाद 11 जनवरी को कैथल, रोहतक के महम, जींद के नरवाना व फतेहबाद और 12 जनवरी को कुरुक्षेत्र के लाडवा में सर्वेक्षण होगा।