News Description
प्रदर्शन कर रहे कंप्यूटर ऑपरेटर पर पुलिस ने भांजी लाठी, 20 घायल

करनाल : अपनी मांगों का ज्ञापन सीएम के ओएसडी अमरेंद्र ¨सह को देने की मांग पर अड़े कंप्यूटर ऑपरेटरों पर पुलिस ने लाठी भांजकर तितर बितर कर दिया। इस दौरान तीन पुलिसकर्मियों समेत 20 लोग घायल हो गए। बाद में पुलिस ने दस कंप्यूटर ऑपरेटरों को गिरफ्तार कर लिया।

प्रदर्शनकारी सेक्टर 12 में जमा हुए। यहां से करीब तीन बजे ओएसडी के निवास की ओर चल पड़े। यहां पुलिस ने पहले ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिए थे। इसे देखते हुए प्रदर्शनकारी वहीं पर बैठ गए। तकरीबन पौने पांच बजे प्रदर्शनकारियों के बीच कुछ युवाओं ने बेरिकेड को तोड़ने की कोशिश की। पुलिसकर्मी उन्हें रोकने के लिए आगे आए, लेकिन प्रदर्शनकारियों की संख्या ज्यादा थी, इसलिए वह थोड़ा पीछे हट गए। इसके बाद प्रदर्शनकारी और ज्यादा आक्रमक होकर दबाव बनाने लगे। स्थिति बेकाबू होती देखकर पुलिस ने वाटर कैनन से पानी की बौछार उन्हें पीछे हटाया। इसी बीच कुछ लोगों ने पुलिस पर हल्ला बोल दिया। इसे काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

सुबह से ही जुटने लगे थे ऑपरेटर

रविवार को अवकाश था, इसके बाद भी कंप्यूटर ऑपरेटर सुबह से ही करनाल में जुटना शुरू हो गए थे। करीब 12 बजे तक जब काफी संख्या में प्रदर्शनकारी जुट गए तो उन्होंने सेक्टर 12 के पार्क में एक सभा का आयोजन किया। इसमें कर्मचारी संघ के राज्य प्रधान राजेंद्र, लैब सहायक एसोसिएशन के प्रधान सुरेंद्र प्योंत, प्रवीन, जुबेर, सवेता, अंजु, जगदीश, सुभाष, अनिल आदि संघ के सदस्यों ने संबोधित किया। उन्होंने कहा कि सरकार हमारी मांगों पर ध्यान दे।

दर्जनभर कंप्यूटर ऑपरेटर हुए घायल

पुलिस की कार्रवाई के दौरान कई कंप्यूटर ऑपरेटरों को जमकर लाठियां पड़ी। संघ के अनुसार दर्जनभर ऑपरेटर घायल हुए हैं। संघ के सदस्य विनय और राजेश ने बताया कि लाठीचार्ज में कई को गंभीर चोट भी आई है, लेकिन वे पुलिस के डर से अस्पताल में इलाज कराने के बजाय अपने घर चले गए।