News Description
जींद में स्वच्छता सर्वे पूरा, आज से सफीदों में होगा मूल्यांकन

, जींद : स्वच्छता भारत मिशन के तहत केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से सफाई व्यवस्था का आकलन करने आई टीम ने जींद शहर का सर्वे पूरा कर रिपोर्ट ऑनलाइन पोर्टल पर भेज दी है। अब यह टीम सोमवार से सफीदों में सर्वे शुरू करेगी और दो दिन वहां रहेगी।

देशभर में 4 जनवरी से शुरू हो चुके स्वच्छता सर्वेक्षण में जींद समेत जिले के सभी नगर परिषद और नगर पालिका शामिल हैं। जींद में बृहस्पतिवार को दो सदस्यीय टीम सर्वे के लिए पहुंची थी। शहर में तीन दिन तक टीम ने नगर परिषद कार्यालय में रिकॉर्ड की जांच करने के साथ ही शहर में जाकर लोगों से फीडबैक लिया। हालांकि शनिवार को सर्वे के अंतिम दिन तकनीकी खामी आने की वजह से सर्वे टीम को मुख्यालय की तरफ से लोकेशन नहीं मिल रही थी, जिससे देर शाम तक सर्वे का काम चला। संभावना जताई जा रही थी कि रविवार को भी सर्वे टीम जींद में ही रहेगी, लेकिन रविवार सुबह मुख्यालय से सफीदों में सर्वे के लिए टीम को निर्देश दिए गए।

गौरतलब है कि सर्वे टीम को क्या करना है, इस बारे में पहले से कुछ तय नहीं है। कुछ समय पहले एप के माध्यम से सर्वे टीम को लोकेशन मिलती है कि उन्हें किस जगह जाकर सर्वे करना है।

30 जनवरी तक स्वच्छता मैप पर भेजें शिकायत

नगर परिषद के एमई सतीश गर्ग ने बताया कि सर्वे पूरा हो चुका है, लेकिन 30 जनवरी तक स्वच्छता मैप पर दर्ज शिकायतों के आधार पर अंक मिलेंगे। जींद में अभी 392 लोगों ने इस एप को डाउनलोड किया है और 379 शिकायतें इस गंदगी से संबंधित भेजी गई हैं। उनमें से 51 शिकायतें पें¨डग हैं और बाकी का समाधान हो चुका है। एप डाउनलोड करने के मामले में अंबाला सबसे आगे चल रहा है और यहां अब तक 2263 लोग इस एप को डाउनलोड कर चुके हैं तथा 1293 शिकायतें अब तक इस पर आ चुकी हैं। रोहतक में 5198, गुड़गांव में 983, हिसार में 981, पंचकूला में 443 और यमुनानगर 464 एप डाउनलोड कर जींद से आगे चल रहे हैं।