# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
ठंड की चपेट में आने से पूर्व जेडटीओ के दामाद की हृदय गति रुकने से मौत

 हिसार : ठंड की चपेट में आने से रविवार को नगर निगम के पूर्व जेडटीओ गिरधर गोपाल के दामाद 42 वर्षीय हरीश कुमार की हृदय गति रुकने से मौत हो गई। सूचना मिलते ही नागरिक अस्पताल में राजगुरु मार्केट के व्यापारी और जन संगठनों के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने शोकाकुल परिवार को ढांढस बंधाया और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। जानकारी के अनुसार हरीश कुमार राजगुरु मार्केट स्थित एक दुकान में काम करते थे। उनकी पत्नी दिल्ली रोड स्थित एक स्कूल में जॉब करती हैं, जहां क्वार्टर मिला हुआ है। वहां से रोजाना हरीश दुपहिया वाहन पर सवार होकर बाजार में आया-जाया करते थे। रविवार सुबह दुकान पर आने के लिए घर से निकले थे। जब बाजार पहुंचे तो ठंड लगने लगी। ऐसे में रजाई ओढ़कर धूप में बैठ गए। उन्हें देख एक व्यापारी ने हरीश का हालचाल पूछा। जवाब मिला कि काफी ठंड लग रही है। उन्हें तुरंत शहर के निजी अस्पताल ले जाया गया। वहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सक ने दवाइयां देकर छुट्टी दे दी। इसके बाद हरीश अपने ससुर पूर्व जेडटीओ गिरधर गोपाल के आवास पर चले गए। वहां चाय पी और फिर बाथरूम जाने के लिए उठे। जहां पहुंचते ही गिर पड़े। ससुरालियों ने उन्हें संभाला और फिर से अस्पताल लेकर चले गए। वहां चिकित्सक ने सिविल अस्पताल लेकर जाने के लिए कहा। वहां पहुंचे तो चिकित्सकों ने ठंड की वजह से हृदय गति रुकने से मौत होने की पुष्टि कर दी। इस दौरान शोकाकुल परिवार को दुख की घड़ी में संभालने के लिए डिप्टी मेयर भीम महाजन, जन संघर्ष समिति अध्यक्ष गौतम सरदाना, रवि मेहता, टीनू आहुजा सहित अन्य व्यापारी और समाजेसवी पहुंचे। बता दें कि इससे पूर्व भी जिले में तीन लोगों की ठंड से मौत हो चुकी है।