News Description
समग्र ग्राम विकास के माधयम से गौशाला में भव्य कार्यक्रम का आयोजन

पलवल जिले के हथीन खंड के गहलब गांव मे समग्र ग्राम विकास गतिविधि के माधयम से त्रिवेणी धाम गौशाला में एक भव्य एंव सुंदर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम मे कुल संख्या लगभग 800 के करीब रही। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अखिल भारतिय समग्र ग्राम विकास प्रमुख माननीय डाक्टर दिनेश जी रहे। डाक्टर दिनेश जी का गहलब गान के अड्डे पर पहुंचने पर ग्राम के गणमान्य व्यक्तियों माताओं व बहनों के द्वारा भव्य स्वागत किया गया। बहनों ने डाक्टर जी का स्वागत अपनी संस्कृति के अनुरूप् कलावा बांधकर व तिलक लगाकर किया। इसके बाद एक किलोमीटर तक कलश यात्रा के साथ डाक्टर दिनेश जी पैदल ही चलकर गौशाला के पास ही पुस्कालय का मंत्रोच्चार के साथ भूमि पूजन किया। युवाओं के भारत माता की जय आदि तयघोषो से उत्साह देखते ही बनता था। इसके बाद गौशाला में गौ माता का पूजन किया गया। इसके बाद डाक्टर दिनेश जी ने नारियल फोडकर पुस्तकालय का उध्दाटन किया। इस पूरे कार्यक्रम में उनके साथ राष्टीय स्वंयसेवक संघ के हरियाणा प्रान्त के प्रात कार्यवाह श्री मान देवप्रसाद भारद्वाज जी हरियाणा प्रान्त के सम्रग ग्राम विकास प्रमुख श्री मान कुलदीप जी अन्य अधिकारी वृन्द व कार्यकर्ता रहे। हरियाणा प्रान्त कार्यवाह देवप्रसाद जी ने अपने उध्दोधन में अपनी ग्रामीण संस्कृति को छोडकर शहरीकरण की और जा रहे समाज के बंधुओं से अपनी संस्कृति के आधार पर गांव के विकास पर बल दिया। उन्होंने गांव के छोटे मोटे झगडों व अन्य समस्याओं को गांव में ही बैठकर निपटाने व उच नीच छुआछूत का भेद भूलकर आपस में मिलझुल कर रहने का आग्रह किया ताकि समाज एकजुट होकर समरस व शक्तिशाली बन सके। उन्होंने गांव में एक मंदिर एक शमशान व एक कुए का प्रयोग करने का भी आग्रह किया ताकि हमारे सभी भेद समाप्त हों सकें। कार्यक्रम में ब्रहम्माचेतक जी महाराज वृन्दावन ने रामायण व भगवान राम के उध्दरण देकर समाज को बताया कि अंतिम व्यक्ति को साथ लेकर चलने से ही देश व समाज का भला हो सकता है। डाक्टर दिनेश जी ने भगवान राम और भगवान कृष्ण के तथा अन्य ऐतिहासिक संदर्भों के माध्यम से ग्राम विकास का एक सुंदर चित्र जन मानस के पटल पर अंकित किया। उन्होंने गौ आधरित जीवन शैली जैविक खेती पर विशेष बल देते हुए इन्हें अपने जीवन का अंग बनाने का आवाहन किया। ब्रज की संस्कृति का उल्लेख करते हुए बताया कि गौ रक्षा के बल पर ही भारत की रक्षा हो सकती है। इस पूरे कार्यक्रम के बिच में तेज आंधी के साथ भारी बारिश का आना व उसमें भी माता बहनों बुजुर्गों व नौजवानों का उत्साह देखने लायक था। भारी वारिस के होने पर भी सभी अपने स्थान पर बैठे रहे। विभिन्न स्कूल के बच्चों ने अपने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से पंडाल को राष्टभक्ति के भाव से सराबोर कर दिया। भुडेर मंडल की चौपाइयों के माधयम से सामाजिक कुरीतियों पर जोरदार प्रहार किया गया। वहीं हसनपुर आर्य कन्या गुरूकुल से आई बहनों नें अपने गीतों के माध्यम से बेटी बचाओं बेटी पढाओं व भ्रूण हत्या जैसे कलंक को समाज से समाप्त करने के लिए समाज को जागरूक किया। अंत में गांव के सरपंच नरेंद्र जी ने सबका धन्यवाद किया।