News Description
किसानों ने अधिकारियों पर घटिया खाद देने का लगाया आरोप

रानियां : पुरानी खाद वितरित करने पर गांव चक्कां के किसान भड़क गए और उन्होंने पैक्स अधिकारियों के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। किसानों ने अधिकारियों पर घटिया खाद देने का आरोप लगाया। गांव चक्कां के किसान राधेश्याम, सुभाष चंद्र, चंद्रभान, बलराम, बृजलाल, ओम प्रकाश, कृष्ण, वेदप्रकाश, मंगतराम का कहना है कि पिछले काफी समय से गांव में यूरिया समय पर नहीं मिल रही है।

उन्होंने कहा कि अब जो यूरिया किसानों को पैक्स द्वारा दी जा रही है वह जमी हुई है तथा ढाई साल पुरानी है। खाद के थैलों में पत्थर बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की खाद से फसलों को फायदा कम बल्कि नुकसान ज्यादा होगा। इस खाद के डालने से उन की फसल पीली पड़ जाएगी। किसानों ने कहा कि चक्का के अलावा आसपास के गांव में दिसंबर 2017 की यूरिया खाद पहुंच रही है। लेकिन चक्का गांव में ढाई साल पुरानी ही भेजी जा रही है। अगर पैक्स प्रबंधक की तरफ से यह खाद वापस नहीं की गई तो इसको लेकर वह बड़ा आंदोलन करेंगे। दूसरी और चक्कां के पैक्स सेल्जमैन ओमप्रकाश का कहना है कि यूरिया खाद पैक्स में आई है वह हैफेड के गोदाम से सप्लाई की गई है। उन्होंने बताया कि इससे पहले किसानों को यह शिकायत थी कि गांव में यूरिया नहीं आ रही है।

अब सप्लाई आई है उस पर सन 2015 लिखा हुआ है। उन्होंने कहा कि जिन किसानों को यह यूरिया दी गई है वह उनसे वापस लेकर हैफेड में भिजवाई जाएगी तथा किसानों को नई खाद आने पर खाद का वितरण किया जाएगा