News Description
हरियाणा कर्मचारी महासंघ ने चलाया हस्ताक्षर अभियान

कनीना : हरियाणा कर्मचारी महासंघ ने अपनी मांगों के समर्थन में हस्ताक्षर अभियान चलाया है। इसकी शुरुआत बूचावास गांव से की गई। ग्रामीणों के हस्ताक्षर करवाकर मुख्यमंत्री को भिजवाया जाएगा तथा आगामी 20 फरवरी को सांकेतिक धरना दिया जाएगा। अगर फिर भी मांगे नहीं मानी गई तो धरना अनिश्चितकालीन हड़ताल में बदल जाएगा।

हरियाणा कर्मचारी महासंघ नेता अपनी मांगों को मनवाने के लिए अब जनता के बीच पहुंच गए और समर्थन हासिल करने के लिए हस्ताक्षर अभियान शुरू कर दिया। हरियाणा कर्मचारी महासंघ के प्रधान कंवर ¨सह यादव ने बताया कि पिछले तीन साल से संघर्ष जारी है। पहले चरण में प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भिजवाया गया, दूसरे चरण में कमिश्नर के माध्यम से ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया गया, लेकिन सरकार नींद से नहीं जागी। प्रदेश सरकार ने चुनावों से पूर्व जो वादे किए थे उनको पूरा नहीं किया। इसको लेकर हरियाणा कर्मचारी महासंघ ने सीएम सिटी करनाल में 20 अगस्त को एक आक्रोश रैली निकालकर सरकार के प्रति रोष प्रकट किया।

महासंघ प्रधान कंवर ¨सह ने बताया कि रैली में आए करीब तीन लाख कर्मचारियों के आक्रोश को देखते हुए मुख्यमंत्री ने 18 सितंबर को अपने निवास स्थान पर प्रतिनिधिमंडल से बातचीत कर इसका समाधान 12 दिन के अंदर करने का आश्वासन दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री द्वारा 28 सितंबर को 12 मांगे मानते हुए मेनीफेस्टो जारी कर विश्वास दिलाया कि 1 नवंबर को सभी 12 मांगों की घोषणा कर दी जाएगी लेकिन 1 नवंबर को प्रदेश सरकार ने हरियाणा कर्मचारी महासंघ से बनी सहमति में से एक भी डिमांड को लागू नहीं किया