News Description
गोवंश के लिए दी गई राशि सही तरीके से होगी खर्च

गुहला चीका: डीसी सुनीता वर्मा ने कहा कि भारतीय संस्कृति में गोवंश का विशेष महत्व है। हर साधन सम्पन्न व्यक्ति को गोवंश की सेवा में सहयोग करना चाहिए। वर्मा नगरपालिका हाल में समाज सेवकों, सरकारी संगठनों, चिकित्सकों, सरपंच एसोसिएशन, मार्बल एसोसिएशन, पार्षदों व व्यापारियों की एक बैठक को संबोधित कर रही थी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा गोवंश की सुरक्षा के लिए गोवंश संरक्षण बिल पास किया गया है। गोवंश की सुरक्षा के साथ इनकी उचित देखभाल और सम्मान भी जरूरी है। इसके लिए सरकार द्वारा नंदीशालाओं का निर्माण करवाया गया है। चीका में भी इस तरह की शिव शंकर नंदीशाला स्थापित की गई है, जिसका पंजीकरण करवा दिया गया है। नंदियों के चारे की नियमित व्यवस्था के लिए समाज के सभी वर्गों का सहयोग जरूरी है।

उन्होंने कहा कि इससे न केवल गोवंश को सम्मान मिलेगा, बल्कि बेसहारा पशुओं की वजह से सड़कों और बाजारों में होने वाली दुर्घटनाओं पर भी अंकुश लगेगा। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया कि गोवंश की सहायता के लिए दी जाने वाली राशि का एक-एक पैसा सही प्रकार से खर्च होगा और पूरी व्यवस्था पारदर्शी तरीके से लागू की जाएगी।

उन्होंने नंदीशाला चीका के निरीक्षण के दौरान गोवंश के लिए की गई उपलब्ध सुविधाओं का भी जायजा लिया। उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह समय-समय पर पशुओं के स्वास्थ्य की जांच करें और आवश्यक टीकाकरण भी करें। डीसी के आह्वान पर लोगों ने लगभग सवा 6 लाख रुपये की आर्थिक सहायता तथा लगभग 110 तूड़ी की ट्राली देने का आश्वासन दिया।

इस मौके पर डीसी के आह्वान पर विभिन्न संगठनों व साधन संपन्न लोगों ने नंदीशाला के संचालन के लिए लगभग सवा 6 लाख रूपए की सहायता राशि तथा लगभग 110 तूड़ी की ट्राली देने की सहमति जताई। इसके अलावा तहसील कार्यालय और राजस्व विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने नंदीशाला के लिए एक ट्रैक्टर ट्राली उपलब्ध करवाने की बात कही। उपायुक्त ने लोगों की इस भावना की सराहना की और अन्य लोगों से भी सहयोग करने का अनुरोध किया।

बॉक्स

विकास को लेकर भी चर्चा

डीसी ने चीका नगरपालिका क्षेत्र में विकास परियोजनाओं पर भी चर्चा की। उपायुक्त ने कहा कि नगरपालिका क्षेत्र में सड़क, गलियां, स्ट्रीट लाईट, पेयजल, स्वास्थ्य और स्वच्छता संबंधी सभी योजनाएं तेजी से लागू की जाएंगी। पूरे क्षेत्र को एक विकसित और सुंदर शहर के रूप में तैयार किया जाएगा। इस मौके पर लोगों द्वारा रखी गई समस्याओं के समाधान के लिए भी उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश भी दिए।